हल्दी की गांठ से वशीकरण मंत्र

हल्दी की गांठ से वशीकरण मंत्र
हल्दी की गांठ से वशीकरण मंत्र

हल्दी की गांठ से वशीकरण मंत्र

हल्दी की गांठ से वशीकरण मंत्र, दोस्तों आप सब जानते ही होंगे हल्दी के गुणों को जिसका उपयोग औषधि के रूप में भी किया जाता है। हल्दी का तिलक, हल्दी का दूध बहुत उपकारी होता है स्वास्थ के लिए। हल्दी को चेहरे पर लगाने से भी चेहरा खिल उठता है शायद यही कारण होगा कि शादी-विवाह में हल्दी का भी एक रस्म होता है अलग से।

हल्दी की गांठ से वशीकरण मंत्र
हल्दी की गांठ से वशीकरण मंत्र

मगर इन सब बातों के अलावा भी हल्दी का अनेक महत्व है वशीकरण करने के क्षेत्र में क्या आप इस विषय में कुछ जानते हैं। अगर नहीं तो हम आपको बता दें कि हल्दी की गांठ से आप किसी को भी वशीकरण मंत्र के माध्यम से वशीभूत कर सकते हैं।

उपाय

 यदि आप किसी को वशीभूत करना चाहते हैं हल्दी के गाठों के माध्यम से तो इसके लिए आपको सबूत हल्दी की गांठें इकट्ठा करना होगा। इस गांठ वाली हल्दी से वशीभूत करने के लिए आपको उस व्यक्ति का नाम, जन्मतिथि एवं गोत्र को जानना बहुत जरूरी है

जिसको आप वशीकरण करना चाहते हैं क्योंकि उस व्यक्ति का नाम जन्मतिथि गोत्र यह सब आपको साबुत हल्दी की एक बड़ी सी गांठ पर लिखना होगा और लिखने के बाद आपको हल्दी के उस गांठ को लाल कपड़े पर लपेटकर अपने सर के ऊपर सात बार घूमाना होगा घुमाने के बाद आपको इस मंत्र का जाप करना होगा:-

ॐ: वशिनमये हल्दवाशिभूते गली ॐ नम स्वाह:

 यदि आप हर दिन स्नान करके साफ-सुथरे कपड़े पहन कर इस मंत्र का जाप तथा इस विधि का प्रयोग अपने जीवन में रोजाना करेंगे तो आप जिस भी व्यक्ति को वशीकरण करना चाहते हैं वह आप से वशीभूत हो जाएगा।

जिन लोगों के ऊपर गुरु की दशा यानी कि बृहस्पति की दशा चल रही है वह लोग भी हल्दी की गांठ से सामान्य उपाय करके उन दशाओं से बच सकते हैं। यदि आपके ऊपर भी बृहस्पति की दशा चल रही है तो घबराने की जरूरत नहीं है क्योंकि हल्दी की गांठ से कुछ तरीकों से वशीकरण कर आप गुरु की दशा से बच सकते हैं।

हल्दी की गांठ से वशीकरण कैसे किया जाता है

हल्दी को बृहस्पति का सप्लीमेंट माना जाता है। आपको बृहस्पति की दशा से मुक्ति पाने के लिए सर्वप्रथम बृहस्पतिवार के दिन बाजार से हल्दी की गांठ को खरीद कर लाना है और उसे अपने पूजा स्थान पर स्थापित कर देना है।

ऐसा करने से आप जो बहुत दिनों से मानसिक परेशानियों से गुजर रहे थे न या आपका विवाह होते होते रुक जा रहा था न या फिर आपके अपने कार्य क्षेत्र में सफलता नहीं मिल रही थी तो वह सभी मांगलिक कार्य आसानी से अब हो जाएंगे।

हम सब आमतौर पर हल्दी का रंग पीला या हल्का लाल होता है यह ही जानते हैं मगर क्या आप जानते हैं कि काली हल्दी भी होती है । जी, हां काली हल्दी का गांठ हमें कभी-कभी मिल ही जाता है जो वास्तव में हमारे लिए बहुत चमत्कारी साबित हो सकता है।

यदि आपके घर में कोई व्यक्ति बार – बार बीमार पड़ रहा है और आप इलाज करवा कर के थक चुके हैं तो यह काली हल्दी आपके परिवार के उस व्यक्ति के लिए लाभकारी सिद्ध हो सकता है। उसके लिए आपको गुरुवार के दिन दो आटे के पेड़े बनाने होंगे फिर उसी पेड़े में काली हल्दी को डालना है

हल्दी की गांठ से कैसे वशीकरण होता है

डालने के बाद जो व्यक्ति बीमार है उसके सर के ऊपर से 7 बार घूमाना है और गाय को खिला देना है।  आपको जरूर काली हल्दी से लाभ मिलेगा और यह उपाय आपको तीन गुरुवार तक लगातार करने हैं जल्दी लाभ पाने के लिए।

यदि आपके बच्चे को किसी की नजर लग गई है ऐसा आप सोचते हैं और नजर बार-बार उतारने के बाद भी उस बच्चे के ऊपर से नजर का साया नहीं जा रहा है तो परेशान मत होइए क्योंकि काली हल्दी को यदि आप किसी काले कपड़े में बांधकर उस बच्चे के सर से सात बार घुमाकर बहते हुए जल में प्रवाहित कर देंगे तो आपके बच्चे को यदि किसी की नजर लगी होगी तो वह नजर का साया हमेशा हमेशा के लिए खत्म हो जाएगा और अपने बच्चे को नजर के साए से बचाने के लिए प्रत्येक गुरुवार को आपको यह टोटका अवश्य करना चाहिए।

यदि आप या आपके परिवार के कोई भी सदस्य किसी भारी बीमारी से गुजर रहा है कैंसर जैसी बीमारी से पीड़ित है और आप बहुत चिंतित हैं तो अब चिंता करने की आवश्यकता नहीं है क्योंकि हल्दी का गाठ उस व्यक्ति के लिए चमत्कारी साबित हो सकता है इसके लिए आपको हल्दी का दान करना होगा।

आप में से बहुत लोगों पर गुरु की दशा चल रही है और आप लोग इस दशा से काफी सारी परेशानियों का सामना भी कर रहे होंगे बहुत लोग एस्ट्रोलॉजर के पास जाते हैं स्टोन पहनते हैं उनका काम शुरू हो जाता है।

मगर आजकल बाजार में स्टोन भी बहुत महंगा हो गया है और सभी लोगों का सामर्थ्य नहीं होता है कि वह बृहस्पति के वार से बचने के लिए यह स्टोन खरीद कर पहने इसलिए हल्दी का यह टोटका आपके लिए अच्छा शुभ साबित हो सकता है जो पुखराज से भी ज्यादा अच्छा फल देगा और जल्दी फल देगा।

हल्दी की गांठ का उपयोग

इसके लिए सर्वप्रथम आपको गांठ वाली हल्दी का जुगाड़ करना होगा उस हल्दी को किसी धागे में बांधकर अपने गले में पहन लीजिए ध्यान रखे आपको यह गांठ गुरुवार के दिन ही पहनना है और किसी दिन नहीं। इससे आपका गुरु मजबूत भी होगा और आप पर लक्ष्मी का बरसात भी होगा।

पीली हल्दी के गांठें आपको गुरु की दशा से बचाते और काली हल्दी की गांठ आपको शनि की दशा से बचाती है इस बात का ध्यान रखें।

क्या आप अपने आपको बुद्धिमान बनाना चाहते हैं और आप अपनी बुद्धि को वशीभूत करना चाहते हैं तो आप हल्दी की माला को धारण करें हल्दी की माला धारण करने से आप अत्यधिक बुद्धिमान बनेंगे और आपकी बुद्धि की तुलना किसी से भी नहीं की जा सकती है।

हल्दी से नकारात्मक शक्ति भी मनुष्य के अंदर से खत्म होती है यदि आप में नकारात्मक उर्जा भरी हुई और आप  अपनी नकारात्मक ऊर्जा को बाहर निकालना चाहते हैं तो उसके लिए आपको हर दिन हल्दी के जल से नहाना चाहिए इससे आपके भीतर मौजूद नकारात्मक सारी शक्तियां बाहर निकल आएगी।

लाल कपड़े से वशीकरण

[Total: 2    Average: 4/5]
About वशीकरण विधि 20 Articles
वशीकरण विधि वशीकरण एक आद्यात्मिक कला है जिसको बहुत कठिन आत्मिक तपस्या के बल से प्राप्त किया जाता है. वशीकरण विधि को एक बार प्राप्त कर के आप अपना मनचाहा काम पल भर मे पूरा कर सकते हो.वशीकरण विधि का दुरूपयोग करने से ये विधि काम करना बंद कर देती है, इसलिए धारक को ये सलाह दे जाती है की वो वशीकरण विधि का वही उपयोग करे जहा इसकी वास्तव मे नेक कार्य मे जरुरत हो.किसी भी कार्य के अनुसार वशीकरण की अलग अलग विधि उपयोग मे लायी जाती है. एक वास्तव वशीकरण विधि धारक वो है जो समस्या को समझ के सही वशीकरण विधि का उपयोग करे.