तांत्रिक विद्या का तोड़

तांत्रिक विद्या का तोड़
तांत्रिक विद्या का तोड़

तांत्रिक विद्या का तोड़

आपके जीवन में सब कुछ अच्छा चल रहा होता है लेकिन अचानक कुछ ऐसा घटित हो जाता है जो कि आपकी कल्पना से भी परे होता है| अचानक आई कोई मुसीबत टोने-टोटके या तांत्रिक प्रयोगों के कारण हो सकती है| यदि आपके घर पर आया कोई भी संकट सभी तरह के उपायों को करने पर भी नही टल रहा है तो आपको ये समझना चाहिए कि ये मुसीबत कोई सामान्य मुसीबत नही है| ये मुसीबत ज्योतिष और तांत्रिक कारणों से हो सकती है| ऐसे में आपको तांत्रिक विद्या का तोड़ जल्द से जल्द अमल में लेना चाहिए|

तांत्रिक विद्या का तोड़ तांत्रिक प्रभावों या हमलों से मुक्ति के लिए महत्वपूर्ण हैं| आप यहाँ दिए उपायों को करें और जल्द से जल्द अपनी समस्या से छुटकारा पायें|

तांत्रिक विद्या का तोड़
तांत्रिक विद्या का तोड़

किसी की बुरी नज़र से अपने को बचाएं – यदि किसी के ऊपर बुरी नज़र का साया हो गया है तो उसे यहाँ दिए गए उपाय से दूर करें| शनिवार के दिन किसी पात्र में थोड़ा सा कच्चा दूध लें और इसे प्रभावित व्यक्ति के सिर के ऊपर से 7 बार घुमाएँ| अब इस दूध को किसी काले कुत्ते को पिला दें| ऐसा करने से बुरी नज़र का प्रभाव समाप्त हो जायेगा|

यदि किसी ने आप पर काला जादू या तांत्रिक हमला किया है तो यहाँ आपको एक बहुत ही प्रभावशाली तांत्रिक विद्या का तोड़ दिया जा रहा है|

यदि आपकी दुकान और ऑफिस में काम अच्छा नही चल रहा है घर में कलह और अशांति रहती है तो इसका कारण किसी के द्वारा आप पर काला जादू करना हो सकता है| ऐसी स्तिथि में तांत्रिक विद्या का तोड़ इस प्रकार करें –

शनिवार के दिन 8 पान के ठंडल वाले पत्ते और 5 पीपल के पत्ते लें| अब एक लाल रंग का धागा लेकर इन पत्तों को उसमें पिरो दें| इसके बाद इसे घर, ऑफिस या दुकान में पूर्व की दिशा में बाँध दें| ऐसा करने से किसी भी प्रकार का तांत्रिक प्रभाव समाप्त हो जायेगा|

गौमूत्र के प्रयोग से भी तांत्रिक विद्या का तोड़ किया जा सकता है| इसके लिए आपको घर में नियमित रूप से गौमूत्र का छिड़काव करना चाहिए| नकारात्मक शक्तियों को नष्ट करने में इसका कोई तोड़ नही है| गौ-माता में सभी देवताओं का वास होता है और इसके कारण उसके मूत्र में अद्भुत शक्तियां मौजूद होती हैं|

तांत्रिक विद्या का तोड़ हनुमान जी की पूजा से भी किया जा सकता है| इसके लिए मंगवार और शनिवार को हनुमान चालीसा या सुन्दरकाण्ड का पाठ करें| इससे आप हर तरह की तांत्रिक हमलों से बचे रहेंगे|

भूत प्रेत के हमले से बचने के लिए प्रेत बाधा निवारक हनुमत मंत्र एक प्रभावशाली तांत्रिक विद्या का तोड़ है| ये मंत्र इस प्रकार है –

ओम ऐं ह्रीं श्रीं ह्रां ह्रीं ह्रूं ह्रैं ओम नमो भगवते महाबल पराक्रमाय भूत-प्रेत पिशाच-शाकिनी-डाकिनी-यक्षणी-पूतना-मारी-महामारी,

यक्ष राक्षस भैरव बेताल ग्रह राक्षसादिकम्‌ क्षणेन हन हन भंजय भंजय मारय मारय शिक्षय शिक्षय महामारेश्वर रुद्रावतार हुं फट् स्वाहा।

भूत-प्रेत, डाकिन से बचने के लिए इस मंत्र का 5 बार जप करें|

यदि कोई आपको तंत्र-मंत्र आदि के प्रयोग से नुकसान पहुँचाना चाहता है तो इसके लिए आपको ये उपाय करना चाहिए| ये तांत्रिक विद्या का तोड़ करने में बहुत आसन है लेकिन इसका प्रभाव काफी अच्छा होता है|

अशोक वृक्ष के सात पत्ते तोड़कर ले आयें और इन्हें घर के मंदिर में रखकर पूजा करें| जब ये पत्ते सूखने लगें तब इन्हें उठाकर पीपल के पेड़ के नीचे रखकर आ जाएँ और दूसरे पत्ते तोड़कर दोबारा मंदिर में रख दें| ये उपाय निरंतर करने से घर हर तरह के तांत्रिक हमलों, टोनों टोटकों या फिर नज़र से बचा रहता है|

तांत्रिक विद्या का तोड़ करने के लिए सुबह शाम माँ काली को दो अगरबत्ती ज़रूर लगायें| ऐसा नियमित रूप से करने से घर सभी तरह के तांत्रिक प्रभावों से मुक्त रहता है|

तांत्रिक विद्या का तोड़ बचाव के लिए ही करना चाहिए| इसके लिए मंगलवार या शनिवार को बजरंग बाण का पाठ करना चाहिए| नज़र दोष, भूत प्रेत से मुक्ति के लिए यह बहुत प्रभावी उपाय है|

हनुमान जी की आराधना करते समय मांस मदिरा से दूर रहना चाहिए| गलती करने पर कोई भी उपाय असर नही करेगा|

नकारात्मक शक्तियों के प्रभाव से मुक्त होने के लिए तांत्रिक विद्या का तोड़ इस प्रकार करें- एक पानी वाला नारियल लें और घर के प्रभावित सदस्य के सिर से 21 बार उसारकर किसी मंदिर या देव स्थान के पास जाकर जला दें| ये उपाय आप 5 शनिवार करें तो सभी संकटों से मुक्ति मिलती है|

प्रतिदिन हनुमान चालीसा पढ़ने और वर्ष में एक दो-बार सुन्दरकाण्ड करवाने से घर हर प्रकार से तांत्रिक हमलों से सुरक्षित रहता है| ये उपाय तांत्रिक शक्ति को समाप्त करने में बहुत ही सटीक है|

एक नींबू लें और इसे प्रभावित व्यक्ति के सिर से 21 बार उसारें और किसी चौराहे पर जाकर इसे पटक दें आते समय पीछे मुड़कर न देखें| ऐसा करने से व्यक्ति के ऊपर बुरी आत्मा का साया हो तो उतर जाता है|

तांत्रिक असर को ख़त्म करने के लिए क्लीं मंत्र का भी प्रयोग किया जा सकता है| काली माता को पूजा के दौरान एक गुलाब चढ़ाएं और इस मंत्र का 21 बार जप करें| मन्त्र – “ॐ क्लीं”| इस मंत्र का 21 बार उच्चारण पूरा होने के बाद गुलाब की 7 पंखुडियां प्रभावित व्यक्ति को खिला दें|

नकारात्मक ऊर्जा, टोने-टोटके, तांत्रिक हमलों से बचने के लिए साँझ के समय इस मंत्र का 11 बार जाप करें और धूप बत्ती जलाएं| मंत्र इस प्रकार है –

“देव दानव देव दानव सिद्धौघ पूजिता परमेश्वरी

पराण रूप परमा परतंत्र विनाशिनी”

यदि आप काले जादू या तांत्रिक हमले को असफल करना चाहते हैं तो यह उपाय करें| शनिवार के दिन दो 2 नींबू लें| दोनों निम्बुओं को बीच में से काटें और बीच में नमक और राई भर के दोनों टुकड़ों को आपस में मिला दें|

इन दोनों निम्बू को प्रभावित व्यक्ति के सिर से 5 या 7 बार वार लें और फिर इन्हें चौराहे पर लेकर जाएँ| अब निम्बू के टुकड़े लें और एक-कर करके चारों दिशाओं में फैंक दें| इस उपाय को शनिवार से शुरू करके अगले शनिवार यानि 8 दिन तक करें|

ये तांत्रिक विद्या का तोड़ हर तरह की समस्या जैसे – नज़र, भूत प्रेत, टोना-टोटका सभी को नष्ट करने में अत्यंत ही लाभकारी है|

 

[Total: 1    Average: 5/5]
About वशीकरण विधि 19 Articles
वशीकरण विधि वशीकरण एक आद्यात्मिक कला है जिसको बहुत कठिन आत्मिक तपस्या के बल से प्राप्त किया जाता है. वशीकरण विधि को एक बार प्राप्त कर के आप अपना मनचाहा काम पल भर मे पूरा कर सकते हो.वशीकरण विधि का दुरूपयोग करने से ये विधि काम करना बंद कर देती है, इसलिए धारक को ये सलाह दे जाती है की वो वशीकरण विधि का वही उपयोग करे जहा इसकी वास्तव मे नेक कार्य मे जरुरत हो.किसी भी कार्य के अनुसार वशीकरण की अलग अलग विधि उपयोग मे लायी जाती है. एक वास्तव वशीकरण विधि धारक वो है जो समस्या को समझ के सही वशीकरण विधि का उपयोग करे.